Webwiki Button Narendra modi biography in hindi- Inspirich man | Inspirich man

Narendra modi biography in hindi- Inspirich man



narendra modi,biography Narendra modi

NARENDRA MODI is the 15th prime minister of  India and assumed office in may 2014. He was the chief minister of Gujarat from 2001 to 2014 and Narendra Modi is the member of parliament for varanshi.

 Modi is the member of Bhartiya janta party( BJP ). Since coming to power, Modi has single-handely made BJP the most powerful party in most of the state. On july 20 , he served a non- confidence motion brought against his government by the TDP with a thumping margin. You know also Narendra Modi is one of the most followed names on social media platforms like Instagram,Facebook and Twitter. 

Modi introduced himself on to the national stage. Despite stiff opposition from party patriarch LK Advani, modi was declared the prime minister candidate for lok sabha election in 2014. 

However,  hos elevation for the top post exposed internal difference in the party. Riding on his wave l, the BJP decimated the Congress led UPA in 2014.

Biography of Narendra modi.

narendra modi
BIOGRAPHY OF NARENDRA MODI

डरते तो वो है जो अपनी छव छवि के लिये मरते है
मैं तो हिंदुस्तान की छवि के लिए मरता हूं


और  इसलिए किसी से भी नहीं डरता हूं

                         By NARENDRA MODI

वैसे तो मोदी जी का जीवन काफी साधारण तरीके से शुरू हुआ है लेकिन अपनी देश भक्ति और जज़्बे और अपनी मेहनत के दम पर ऐसी सफलता हासिल की जिसके बारे में कोई सोच भी नही सकता था वह बहुत गरीब परिवार में पैदा हुए ।

 आपने बचपन के दिनों में जब बच्चे अपने खेलने कूदने में समय बिताते थे तब तब वह अपने घर की आर्थिक स्थिति संभालने के लिए अपने पिता  के कारोबार में हाथ बढ़ाने लगे।और  ट्रेन के डिब्बों में जा जाकर चाय बेची। लेकिन दोस्तो अगर आपके अंदर देश के लिए कुछ करने की चाहत हो तो कोई से भी  लक्ष्य प्राप्त कर सकते हैं 

कोन कहता है कि आसमां में सुराख नहीं हो सकता

 एक पत्थर तो तबियत से उछालो यरो।

आओ दोस्तो शुरू करते हैं मोदी जी की चाय बेचने से लेकर प्रधान मंत्री तक का सफर।

मोदी जी का जन्म 17 सितंबर 1950 को बॉम्बे के राज्य में वडनगर के गांव में हुआ था। बॉम्बे राज्य पहले भारत का ही एक राज्य था।  जिसे 1 मई को अलग कर गुजरात और महाराष्ट्र बना दिया। तो इसलिए अब मोदी जी का जन्म स्थल गुजरात मे आता है। मोदी जी के पिता का नाम दामोदरदास मूलचंद मोदी था और उनकी मां का नाम हीराबेन मोदी है। जब मोदी जी का जन्म हुआ था तब वह बहुत गरीब थे और एक छोटी सी झोपड़ी में रहते थे और उनके माता-पिता के छह संतान थी जिसमें उनका तीसरा स्थान था और उनके पिता स्टेशन पर एक छोटी सी चाय की दुकान चलाते थे। और मोदी जी भी उनका चाय बेचने में हाथ बताते थे और ट्रेन के डिब्बे में जा जाकर चाय बेचते थे। लेकिन मोदी चाय बेचने के साथ-साथ अपनी पढ़ाई का भी पूरा ध्यान रखते थे। 

मोदी जी के टीचर बताते थे कि वह पढ़ाई में काफी अच्छे थे। लेकिन वह भाषण और नाटक कंपटीशन में जमकर हिस्सा लेते थे। और मोदी जी खेलकूद में भी काफी अच्छे थे और उन्होंने अपनी पढ़ाई वडनगर से की। लेकिन 13 साल की उम्र में ही मोदी जी की सगाई यशोदा बेन  चमन लाल के साथ कर दी गई थी और 17 साल की उम्र में उनकी शादी हो गई। फाइनेंशियल एक्सप्रेस की न्यूज़ के अनुसार मोदी जी सिर्फ कुछ वर्ष साथ रहकर बिताये। लेकिन  कुछ समय बाद नरेंद्र मोदी के इच्छा के अनुसार हुए एक-दूसरे के लिए अजनबी हो गए थे।

 लेकिन मोदी जी के जीवन लेखन ऐसा नहीं मानते हैं।  उनका मानना है कि उन दोनों की शादी जरूर हुई लेकिन वह वह दोनों एक साथ कभी नहीं रहे शादी के कुछ वर्षों के बाद नरेंद्र मोदी जी ने घर छोड़ दिया एकदम से उनका जीवन समाप्त हो गया नरेंद्र मोदी का मानना है कि शादीशुदा व्यक्ति के  मुकाबले आशादीशुदा व्यक्ति भ्रष्टाचार के खिलाफ ज्यादा आसानी से लड़ सकता है। क्योंकि उसे अपने परिवार और बच्चों की कोई चिंता नहीं होती। 

बचपन से ही मोदी जी के अंदर देशभक्ति कूट-कूट कर भरी हुई थी। 1962 में जब भारत चीन युद्ध हुआ था उस समय मोदी जी जवानों से भरी हुई ट्रेनों में  खाना और चाय लेकर जाते थे। मोदी जी ने  1965 मैं चीन युद्ध के समय भी जवानों की खूब सेवा की थी। 1971 में वह आरएसएस के प्रचारक बन गए और अपना पूरा समय R.S.S को देने लगे। वह वहां सुबह 5:00 बजे ही उठ जाते और रात देर तक काम करते।  प्रचारक होने की वजह से मोदी जी ने गुजरात की अलग-अलग जगहों पर जाकर लोगों की समस्याओं को करीब से जाना और फिर भारतीय जनता पार्टी का आधार मजबूत करने पर इंपॉर्टेंट रोल निभाया 1975 के आसपास में राजनीतिक क्षेत्र में विवाद की वजह से उस समय के प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने कई राज्यों में आपातकालीन घोषित कर दिया था और तब आर एस एस संस्थाओं पर प्रतिबंध लगा दिया था फिर भी मोदी चोरी छुपे देश की सेवा करते रहे और सरकार की गलत नीतियों का जमकर विरोध किया उसी समय मोदी जी ने एक किताब लिखी थी जिसका नाम संघर्ष मा गुजरात था। 

इस किताब में उन्होंने गुजरात की राजनीति के बारे में चर्चा किया था।  R.S.S में बेहतरीन काम को देखते हुए उन्हें भाजपा में नियुक्त किया गया। मोदी जी के कामों से भाजपा के सीनियर लीडर काफी प्रभावित हुए।  आगे भी उनके अद्भुत कार्य के बदौलत भाजपा में उनका महत्व बढ़ता रहा आखिरकार मोदी की मेहनत रंग लाई और उनकी पार्टी ने गुजरात मैं 1995 विधानसभा चुनाव में बहुमत में अपनी सरकार बना ली लेकिन मोदी से कहासुनी होने के बाद शंकर सिंह बघेला ने पार्टी से रिजाइन दे दिया उसके बाद केशुभाई पटेल को गुजरात का मुख्यमंत्री बना दिया गया और नरेंद्र मोदी को दिल्ली बुलाकर भाजपा में संगठन के लिए केंद्र मंत्री का रिस्पांसिबिलिटी दिया मोदी जी ने इस रिस्पांसिबिलिटी को बखूबी निभाया 2001 में केशुभाई पटेल की सेहत बिगड़ने लगी थी और भाजपा चुनाव में कई सीटें हार रहे थे इसके बाद भारतीय जनता पार्टी  अक्टूबर 2001  मैं केशुभाई पटेल की जगह नरेंद्र मोदी जी को गुजरात का मुख्यमंत्री बना दिया गया मोदी जी ने मुख्यमंत्री का अपना पहला कार्य क्रम 7 अक्टूबर 2001 से शुरू किया था

narendra modi
Narendra modi 

 इसके बाद मोदी जी ने राजकोट विधानसभा चुनाव लड़ा जिसमें उन्होंने कांग्रेस पार्टी के अश्विन मेहता को   बड़े अंतर से मात दी। मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए मोदी जी ने काफी अच्छा काम किया। और गुजरात को फिर से मजबूत कर दिया

 उन्होंने गांव गांव तक बिजली पहुंचाई टूरिज्म को बढ़ावा दिया देश में पहली बार राज्य  के सभी नदियों को एक साथ जोड़ा जिससे पूरे राज्यों में पानी की समस्याया सॉल्व हो गई एशिया के सबसे बड़े सोलर पार्क का निर्माण भी गुजरात में हुआ और इन सबके अलावा भी उन्होंने बहुत सारे अद्भुत कार्य के और देखते ही देखते गुजरात को भारत का सबसेेेेेे बेहतरीन राज्य बना दिया। और वे खुद गुजरात के सबसे प्रिय मुख्यमंत्री बन गए। लेकिन उसी बीच मारच 2002 में  गुजरात के गोधरा कांड नरेंद्र मोदी जी का नाम जोड़ा गया। इस  कांड  के लिए New York Times ने मोदी जी को जिम्मेदार ठहराया। और कांग्रेस सहित अनेक दलों ने उनके  इस्तीफा की मांग की। 

Narendra modi

दोस्तो गोधरा कांड  मैंं February 2002  को गुजरात के गोधरा नाम के शहर में रेलवे स्टेशन पर साबरमती एक्सप्रेस  मैं आग लगाई जाने के बाद 59 लोगों की मौत हो गई थी।पूरे गुजरात में सांप्रदायिक दंगे सुरु होने लगे और फिर 28 फरवरी 2002 को गुजरात केेेे कई इलाकों दंगे बहुत ज्यादा बढ़ गए। जिसमें 1200 से  अधिक लोग मारे गए। इसके बाद इस घटना के  जांच के लिए High Court ने विशेष दल बनाई । और December 2010 में   जांच दल के रिपोर्ट के अनुसार मोदी जी का इस दंगों में कोई हाथ नहीं था। नरेंद्रर मोदी ने   गुजरात में कई ऐसे हिंदू मंदिर को ध्वस्त कारने में थोड़ा सा भी नही सोचा जो सरकरी कायदों के मुताबिक नही बने थे।

 उनके  अच्छे डिसीजन और कार्यों के लिए गुजरात के लोगोंं ने मोदी जी को चार बार मुख्यमंत्री बनाया गुजरात में मोदी की सफलता  देखकर  के सीनियर नेताओं ने  मोदी को 2014  के लोकसभा चुनाव  का प्रधानमंत्री उम्मीदवार घोषित किया  जिसके बाद मोदी ने पूरे भारत में बहुत सारी रैलियां की और साथ ही साथ  और सोशल मीडिया का भी भरपूर लाभ उठाया और लाखों लोगों तक अपनी बात रखी मोदी के अद्भुत  विकासशील  कार्यों उनकी प्रेरणादायक भाषण देश केेेेेे लिए उनका प्यार और उनके सम सकारात्मक सोच  की वजह से  उन्हें भारी मात्रा में वोट मिले  और वह भारत के  15 वे प्रधानमंत्री बन गए 

दोस्तों नरेंद्र मोदी एक बहुत ही मेहनती व्यक्ति हैं  वह 18 घंटे  काम करते हैं  और कुछ ही घंटे सोते हैं  दोस्तों मोदी जी का कहना है की कड़ी मेहनत कभी थकान नहीं लाती मैं तो बस संतोष लाती है नरेंद्र मोदी शुद्ध शाकाहारी है और नवरात्रि केेे 9 दिन उपवास रहते हैं वह अपनी सेहत का भरपूर ध्यान रखते हैं  और प्रतिदिन योग करते हैं मोदी जी अपनी मां से बहुत प्यार करते हैं उनका कहना है कि

 मेरे पास अपने बाबा दादा की ना ही एक पाई हैै 

और ना ही मुझे चाहिए 

मेरे पास अगर कुछ है 

तो अपनी माँ का दिया  आशीर्वाद

Thanks for Reading

how to stop playing free fire 

Narendra Modi Motivational Quotes In Hindi For You 

कुछ बनाना है ऐसा
सपना मत देखो
बल्कि कुछ करके
दिखाना है ऐसा
सपना देखो

में एक छोटा आदमी हु
जो छोटे लोगो के लिए 
बड़ा करना चाहता हु

वक्त काम है जितना
दम है लगा दो 
कुछ लोगो को में 
जागता हु कुछ को
तुम जगा दो

हमारे अंदर दोनों तरह 
के गुण पाए जाते हैं
अच्छे  और बुरे 
जहां हम फोकस 
करते हैं वैसे ही 
बन जाते हैं

 हर किसी के पास 1 गुण होता 
है और वह है आत्मविश्वास 
अगर आपके पास विश्वास
 है तो आप निश्चित रूप से 
कुछ भी कर सकते हैं 
अगर विश्वास नहीं तो 
कुछ नहीं हो सकता

   जातिवाद का जहर 
नफरत पैदा करता है
उससे किसी का भला
नही हो सकता
हमे उससे अपने 
देश को बचाना है

 एक आशावादी आदमी ही
 देश को आशावादी बना सकता है

 डरते तो वो है जो अपनी 
छवि के लिए मरते हैं 
मैं तो हिंदुस्तान की
 छवि के लिए मरता हूं

 काम करने का कोई 
अवसर मिलना मेरे लिए
 सौभाग्य की बात है
 मैं उसमें अपनी 
आत्मा डाल देता हूं 
ऐसा हर एक अफसर अगले 
अफसर के द्वार खोल देता है

  एक गरीब परिवार
 का लड़का आपके 
सामने खड़ा है 
यही प्रजातंत्र
 की ताकत है

मैं  एक प्रधानमंत्री
 के रूप में नहीं !!
 बल्कि एक प्रधान सेवक
 के रूप में आपके बीच 
उपस्थित हू

THANKS FOR READING



SHARE

Milan Tomic

Hi. I’m Designer of Blog Magic. I’m CEO/Founder of ThemeXpose. I’m Creative Art Director, Web Designer, UI/UX Designer, Interaction Designer, Industrial Designer, Web Developer, Business Enthusiast, StartUp Enthusiast, Speaker, Writer and Photographer. Inspired to make things looks better.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

1 comments: